Monday, 10th December 2018

श्री गुरुभ्यो नमः

संस्कार आदमी को वैदिक जीवन जीने के लिए सक्षम बनाता है। वैदिक जीवन परिपूर्ण जीवन होता है। जीवन में पूर्णता तब होगा जब हम मन,शरीर और आत्मा को एक साथ पोषणकरें। संस्कारें अमूल्य वेदों की वह निहित रहस्य है जो पूर्वजों उनके निरंतर और अथक प्रयासों के कारण संरक्षित कर रखें है। उन्होने न केवल उपदेश दी बल्कि उन्हें लगातार अभ्यास भी कर दिखाये हैं।

संस्कारें क्या हैं?

संस्कारें उन वैदिक अनुष्ठानों को कहते हैं जिन्हें अनुसरण करने से आदमी भगवान के साथ संग प्राप्त कर सकता है।

“संस” मतलब “अच्छा”,“कारा” मतलब “बनाना” तो “ संस्कार”का मतलब हुआ "शोधन", “अच्छा बनाना” या “शुद्धकरना”।  संस्कारें आदमी के जीवन मे जन्म से मृत्यु तक होने वाले संभवों को चिह्नित करते हैं।

हमें  संस्कारेंको क्यों अनुसरण करना चाहिए?
निम्नलिखित  संस्कारें की व्यापक उद्देश्य इस प्रकार हैं: -

  • आंतरिक शुद्धता को प्राप्त करने और महान गुणों को प्राप्त करने के लिए

  • लोगों को धार्मिक बनाने के लिए एक व्यावहारिक प्रशिक्षण.

  • युवा पीढ़ी को शुद्ध विचारों को आत्मसात करने के लिए

  • कर्म का बंधन ढीला करने के लिए

  • समस्त लोक के  सुख के लिए

 आप इस वेब साइट से क्या उम्मीद कर सकते हैं?

  • सभी  संस्कारेंके बारे में एक बैंक बनेगा।  इसकेलिए हमें श्रद्धेय लोगों की जानकारी इकट्ठा करनी चाहिए ताकि वे हमें सलाह देंगे।.

  • जाती और उप-जाती के संप्रदायों मे कई अंतर है। हम उन विभिन्न संसकरें को उनके असली रूप में प्रस्थित करने की कोशिश करेंगे।

  • दोनों वैदिक विद्वानें और उम्मीदवारों के बीच एक अच्छी इंटरैक्टिव मंच लाएँगे जो  उनकी विशिष्ट जरूरतों को पूरा करेगी।

 हम उपर्युक्त लक्ष्यों को प्राप्त कैसे करेंगे ?

  • पंडितों, पुरोहितों, पुजारी और गुरुओं से संपर्क करके के एक संसाधन बैंक बनाएंगे।

  • नित्य अनुष्ठानों के लिए के लिए ऑनलाइन ऑडियो वीडियो प्रसारण उपलब्ध करेंगे।

  • उम्मीदवारों को अनुष्ठानें की एक स्वनिर्धारित कैलेंडर प्रदान करेंगे।

  • संबंधित सवालों को पूरा करने के लिए एक उपयोगकर्ता इंटरफ़ेस मंच प्रदान करेंगे।

  • कई विद्वानों के साहित्यिक कीर्तियों को उपलब्ध करेंगे।

  • विभिन्न शहरों में संबंधित कार्यक्रमों पर एक सूचना विंडो की स्थापना करेंगे।

  • अपनी जगह में उपलब्ध पंडितों की जानकारी देंगें।

  • संसकारों को अभ्यास करने के लिए संबंधित महत्वपूर्ण लिंक प्रदान कारेंगे।

  • आपके जगह में हो रहीसंबन्धित कार्यक्रमों पर एसएमएस / ई - मेल अलर्ट प्रदान करेंगे।

धार्मिक संस्कारों में फिर से जीवन लाने की यह एक सच्चा प्रयास है। यदि आप रुचि रखते हैं और खोये हुये यह अमूल्य संस्कारों को फिर से गले लगाने की मन में इच्छा रखते हैं, तो कृपया एक सदस्य बने और निम्न लिंक पर क्लिक करें।

http://www.samskaaram.com/index.php?option=com_user&view=register&Itemid=4&lang=hn

यह विशाल प्रयास में, हमे आपकी पूर्ण समर्थन और सक्रिय प्रतिक्रिया की जरूरत है. प्रतिक्रिया खिड़की को जरूर उपयोग करें।

आपके समय और समर्थन के लिए धन्यवाद और हम आप के साथ संपर्क में हो जायेंगे